भव्य कलश यात्रा के साथ 7 दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा शुरू, बंगाईगांव में उत्साह का माहौल

*भव्य कलश यात्रा के साथ 7 दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा शुरू, बंगाईगांव में उत्साह का माहौल*

तिलक चंद्र प्रसाद /09 अगस्त, बंगाईगांव(असम).निचले असम के जाने माने नगरी बंगाईगांव शहर में 9 अगस्त बुधवार से 15 अगस्त तक 7( सात ) दिवसीय कार्यकर्म के साथ बंगाईगांव शहर के श्री राम मंदिर महिला सत्संग समिति के तत्वाधान में श्रीमद् भागवत कथा प्रारंभ किया गया है जिससे बंगाईगांव तथा इसके आस पास के इलाके के नागरिक तथा भक्तो में उत्साह का माहौल है ।

इस अवसर पर बगाईगांव गांधी मैदान के नजदीक स्थित श्री राधाकृष्ण ठाकुरबाड़ी, से एक भव्य कलश यात्रा निकाली गई । यह आकर्षक शोभायात्रा बंगाईगांव के बाटा मोर, मायापुरी आदि मार्ग परिभ्रमण करते हुए मेन रोड स्थित कथा स्थल श्री राम मंदिर के प्रांगण में आकर सम्पन्न हुई ।

इस मौके पर पंडित गणों ने वरिष्ठ समाज सेवक ओमप्रकाश हरलालका एवं श्रीमती सरोज हरलालका को सपत्नीक विधि विधान से पूजा कराई। पूजन के बाद ओमप्रकाश हरलालका ने सपत्नीक श्रीमद् भागवत धार्मिक ग्रंथ को मस्तक पर रख कलश यात्रा में शामिल होकर कथा स्थल तक पहुंचे।

कलशयात्रा के दौरान पूरे मार्ग में उपस्थित भक्तों ने भी श्री मद् भागवत ग्रंथ को अपने अपने माथे पर रखकर पूण्य के साक्षी बने।कलश यात्रा में वृंदावन से पधारे कथावाचक परम श्रद्धेय श्री राम ठाकुर महाराज की अगुवाई में महिलाएं रंग बिरंगी साड़ियों में कलस के साथ सम्मिलित होकर शोभायात्रा की रौनक बढ़ाई ।

शोभा यात्रा के दौरान पूरा मार्ग भक्ति रस में डूब गया था तथा रास्ते में सभी भक्तों ने धार्मिक ग्रंथ का दर्शन किए। बताया जाता है कि भक्तगण इस कथा का आनंद 9 अगस्त से 15 अगस्त तक प्रतिदिन दोपहर 2:30 से 6:00 तक श्री राम मंदिर प्रांगण में ले सकते हैं।

इस शुभ अवसर पर 12 अगस्त को कृष्ण जन्म एवं 14 अगस्त को रूक्मनी मंगल का विशेष आयोजन किया गया है । वृंदावन से आये पंडित मोहनलाल जोशी के सानिध्य में कथा वाचक श्री राम ठाकुर जी महाराज द्वारा श्री मद् भागवत कथा के इस आयोजन में भक्तो को अपने अपने परिवार जनों तथा आस पास के भोक्तो को उपस्थित होने के लिए आग्रह किया गया है।

ज्ञात हो की बंगाईगांव श्री राम मंदिर महिला सत्संग समिति एक पुरानी धार्मिक संस्था है जो सप्ताहिक भजन कीर्तन के उपरांत धार्मिक अवसरों पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करती आ रही है। यह समिति करीबन 25 वर्षों से सप्ताहिक भजन कीर्तन तथा गत 10 वर्षों से सांगठनिक तौर पर विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों के साथ साथ समाज सेवा में भी सक्रियता पूर्वक अपनी अपनी महत्वपूर्ण योगदान देती आ रही है।

बताया जाता है की श्रीमद भागवत कथा के प्रथम दिन कथावाचक श्री राम ठाकुर जी महाराज ने भागवत महात्म, धुन्दकारी मोक्ष तथा ज्ञान, वैराग्य, भक्ति के बारे में विस्तृत से चर्चा की। आज के इस प्रथम दिन भारी संख्या में भक्त गण श्रीमद् भागवत कथा का अमृत रस पान करने के लिए उपस्थित होकर अपने आप को भक्ति रस में डुबो दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *